Backlink Kya Hai or Kaise Banaye [Proper Guide] in Hindi

1
330
Backlink Kya Hai
Backlink Kya Hai

हेलो दोस्तों आप सभी का हमारे ब्लॉग में स्वागत है आज हम बात करेंगे Backlink Kya Hai और Backlink Kaise Banaye अगर आप ब्लॉग्गिंग की फील्ड में नए हो  तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही महतवपूर्ण होने वाला है इस ब्लॉग में आपको बताऊंगा आखिर बैकलिंक क्या है और बैकलिंक कैसे बनाये

दोस्तों जब आप ब्लॉग्गिंग में नए होते है तो आपको यह नहीं पता होता आखिर बैकलिंक क्या होता है और बैकलिंक कैसे बनाते है और यह हमारे ब्लॉग या वेबसाइट के लिए इतने जरुरी क्यों होते है और कई new ब्लॉगर इसमें काफी सारी गलतियां कर देते है जो इस आर्टिकल में आपको बताने वाला हु

इसलिए अगर आप बैकलिंक के ऊपर पूरी जानकारी लेना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्ण जरूर पड़े ताकि आपके मन में बैकलिंक को लेके सरे डाउट क्लियर हो जाये

Backlink Kya Hai (What is Backlink in Hindi)

दोस्तों ऑनलाइन वर्ल्ड वाइड वेब में जब किसी वेब पेज को किसी दूसरे वेब पेज के साथ लिंक किया जाता है तो इसमें दोनों पेज में link juice पास होता है इसे ही बैकलिंक कहा जाता है और जब आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को किसी हाई अथॉरिटी वेबसाइट से बैकलिंक प्राप्त होता है

तो गूगल को यह लगता है की आपकी वेबसाइट Trustworthy है और आप लोगो को अच्छा क्वालिटी कंटेंट प्रदान किया है इससे गूगल का आपकी वेबसाइट पर विश्वास बढ़ता है और आपकी की अथॉरिटी बढ़ती है और आपकी रैंकिंग SERP में और अच्छी होती रहती है

इसलिए बैकलिंक किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट के लिए महतवपूर्ण होती है लेकिन यह ध्यान रखे सबसे पहले गूगल की नजर में Quality Content मायने रखता है उसके बाद बैकलिंक वेबसाइट की SEO में एक महतवपूर्ण फैक्टर होता है इसको और अधिक समझने के लिए में आपको एक best hindi blog का उदाहरण देके समझाना चाहता हु आपने Hindime.net वेबसाइट का नाम तो सुना या अक्सर गूगल के पहले पेज में देखा ही होगा यह हिंदी ब्लॉग्गिंग की सबसे बड़ी वेबसाइट है

और इन्होने केवल एक दिन में ही नहीं इतनी अच्छी रैंकिंग गूगल में प्राप्त नहीं की होगी इसके लिए इन्होने कितने सालो की कड़ी मेहनत की होगी और अच्छे से अच्छा कॉलिटी कंटेंट यूजर को दिए होगा तभी जाके आज यह इतना अच्छा रैंक कर रहे है 

और साथ ही साथ इन्होने अपनी बैकलिंक प्रोफाइल भी काफी Strong करी है लेकिन सबसे पहले इन्होने अपने कंटेंट पर ध्यान दिया और बेस्ट कंटेंट लोगो को प्रदान किया और जिसके लिए  hindime.net वेबसाइट जानी भी जाती है

बैकलिंक के प्रकार – Types of Backlink in Hindi

दोस्तों आशा करता हु आपको समझ आ गया होगा की Backlink Kya Hai तो चलिए अब यह भी जान लेते है आखिर बैकलिंक्स कितने प्रकार के होते है और रैंकिंग के लिए किस तरह का बैकलिंक महतवपूर्ण होता है 

Dofollow Backlink

दोस्तों डूफ़ॉलो बैकलिंक वह लिंक है जो गूगल या दूसरे सर्च इंजन को बताता है की लिंक किये गए दोनों वेब पेज में लिंक जूस, अथॉरिटी पास हो जिससे आपकी वेबसाइट की अथॉरिटी बड़े और आपकी वेबसाइट authoritative, trustworthy हो और आपकी वेबसाइट SERP में अच्छे से रैंक कर सके और SEO के नजरिये से यह काफी महतवपूर्ण होते है 

Nofollow Backlink

दोस्तों नोफ़ॉलो बैकलिंक वह लिंक होते है जो गूगल और सभी सर्च इंजन को यह बताते है की दोनों वेब पेज (लिंक पेज से डेस्टिनेशन पेज) में लिंक जूस और अथॉरिटी पास ना हो लेकिन यह भी आपकी वेबसाइट के लिए महतवपूर्ण होते है ऐसा नहीं की आप केवल डूफ़ॉलो बैकलिंक ही बनाये

डूफ़ॉलो के साथ साथ नोफ़ॉलो बैकलिंक होना भी बहुत जरुरी है अगर आप केवल डूफ़ॉलो बैकलिंक बनाएंगे तो गूगल इसे स्पैम बैकलिंक समझेगा और आपकी साइट पर पेनलिटी भी लग सकती है 

John Mueller on backlink

बैकलिंक से जुडी कुछ जरुरी बात ध्यान रखे 

दोस्तों यहाँ में आपको बैकलिंक्स बनाने से जुडी कुछ बाते और सावधानिया बताऊंगा जो आपको अपने ब्लॉग्गिंग करियर में बहुत ध्यान रखनी चाहिए ताकि आप सही से लिंक बिल्डिंग कर पाए 

  1. सबसे पहले अगर आपकी वेबसाइट या ब्लॉग new है तो सबसे पहले 1-2 महीने केवल को केवल क्वालिटी कंटेंट देने पर ही मेहनत करे और शुरुवात में ही बैकलिंक बनाना शुरू ना करे
  2. अगर आप शुरुवात में बहुत सारे बैकलिंक बनाओगे तो गूगल को लगेगा की आप केवल अपना फायदा देख रहे है और quality content देने की बजाये बैकलिंक पर ध्यान दे रहे हो 
  3. ध्यान रहे किसी भी वेबसाइट पर बैकलिंक बनाने से पहले उसकी अथॉरिटी की जाँच कर ले की वह वेबसाइट कितनी trusworthy है तभी जाके वहां पर लिंक बनाये 
  4. दोस्तों किसी भी ऐसी स्पैम वेबसाइट पर भूल कर भी बैकलिंक बिलकुल ना बनाये जिसकी अथॉरिटी बहुत कम हो और जिसका ज्यादा स्पैम स्कोर हो 
  5. एक दिन या महीने में जितना सही हो केवल उतने ही सिमित और हाई कॉलिटी बैकलिंक बनाये ध्यान रखे एक high quality backlink हज़ार low क्वालिटी बैकलिंक के बराबर होता है 
  6. अंतिम बात अपनी ब्लॉग या वेबसाइट की बैकलिंक प्रोफाइल analyse करते रहे कई बार हमारे competitor हमारे ब्लॉग की रैंकिंग गिराने के लिए स्पैम बैकलिंक बना देते है और आपको ऐसे स्पैम लिंक को google disavow tool से remove कर देना है 

बैकलिंक कैसे बनाये हिंदी में 

आशा करता हु की आपको समझ आ गया होगा की बैकलिंक बनाने से पहले आपको क्या क्या बाते ध्यान में रखनी चाहिए तो चलिए अब बात करते है की बैकलिंक कैसे बनाये 

Write Quality Content

दोस्तों अगर आप बिना ज्यादा मेहनत करे हाई अथॉरिटी बैकलिंक प्राप्त करना चाहते है तो आपको अपने ब्लॉग में high quality content देना होगा अगर आप एक ब्लॉगर हो तो आपने Backlinko का नाम तो जरूर सुना होगा यह ब्लॉग्गिंग की दुनिया का सबसे बेहतरीन ब्लॉग में गिना जाता है 

और ये अपने ब्लॉग में काफी ज्यादा हाई क्वालिटी आर्टिकल लिखते है और इन्हे हर कोई बड़े से बड़ा ब्लॉगर अपने ब्लॉग से लिंक करते है इसलिए यदि आप भी बिना मेहनत करके quality बैकलिंक है तो आपको भी बेहतर से बेहतर कंटेंट अपने ब्लॉग पर देना होगा और लोग खुद आपको बैकलिंक देंगे

Guest Post करके बैकलिंक बनाये 

दोस्तों गेस्ट पोस्ट हाई अथॉरिटी बैकलिंक बनाने के लिए एक बहुत ही बेहतरीन तरीका है इससे आप ना केवल अच्छे बैकलिंक बना सकते है बल्कि इसके और भी कई सारे फायदे है जैसे ट्रैफिक, ब्लॉग प्रमोशन और ब्रांडिंग, दूसरे ब्लॉगर के साथ अच्छे सम्बन्ध 

इसलिए सभी बड़े बड़े ब्लॉगर हाई अथॉरिटी बैकलिंक बनाने के लिए गेस्ट पोस्ट का सहारा लेते है और यह एकदम genuine तरीका है क्वालिटी बैकलिंक्स बनाने का 

QNA Website

दोस्तों QNA वेबसाइट जैसे Quora जहाँ से आप ना केवल बैकलिंक्स बल्कि अच्छा खासा ट्रैफिक अपने ब्लॉग पर ला सकते है और यह नए ब्लॉगर या ब्लॉग के लिए बहुत ही मददगार साबित होता है इसके जरिये आप अपने ब्लॉग की अच्छी खासी ब्रांडिंग कर सकते है जिससे धीरे धीरे आपके ब्लॉग की ऑनलाइन दुनिया में पहचान बनेगी 

Social Bookmarking Sites

दोस्तों आप सोशल बुकमार्किंग साइट के द्वारा क्वालिटी बैकलिंक बना सकते है भले ही आपको वहां से nofollow backlink मिले लेकिन वो भी आपकी वेबसाइट के लिए काफी मददगार साबित होगा

इसलिए हमेसा अपने कंटेंट को सभी सोशल बुकमार्किंग और सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर शेयर रहे यहाँ से आपको बैकलिंक के साथ साथ अच्छा ट्रैफिक भी मिलेगा इसलिए इसे करना बिलकुल ना भूले 

Broken Link Building 

दोस्तों यह बैकलिंक लेने के लिए बहुत ही पावरफुल तरीका है आप दूसरे ब्लॉगर या वेबमास्टर को उनके वेबसाइट के ब्रोकन लिंक के बारे में अवगत करके वहां पर अपना लिंक ड़ाल सकते है जिस तरह विकिपीडिया में आप ऐसे ब्रोकन लिंक को ढूंढ कर वहां पर अपने आर्टिकल को लिंक कर सकते है बस ध्यान रखे की आपका आर्टिकल उस टॉपिक से मिलता जुलता होना चाहिए 

Competitors पर नजर रखे 

दोस्तों यह सबसे बढ़िया तरीका है बैकलिंक बनाने का आप अपनी केटेगरी और अपनी Niche के कॉम्पिटिटर की वेबसाइट पर नजर यानि Analyse कीजिये की वह किस तरह की लिंक्स strategies और कंटेंट strategies को अपना रहे है

इसके लिए आप Semrush और Ahref टूल का उपयोग करके अपने कॉम्पिटिटर की लिंक बिल्डिंग और कंटेंट strategies को analyse कर सकते है 

Internal Linking पर ध्यान दे 

दोस्तों इंटरनल लिंकिंग पर ध्यान जरूर दे इसका SEO में बहुत ही महतवपूर्ण रोल है और अपने टॉप रैंकिंग आर्टिकल को low रैंकिंग आर्टिकल से लिंक करे जिससे आपके दूसरे आर्टिकल भी धीरे धीरे गूगल में रैंक होना शुरू कर देंगे इसलिए इंटरनल लिंकिंग करना बिलकुल भी ना भूले 

Comment Backlink

जी हाँ दोस्तों यह बैकलिंक बनाने का बहुत ही आसान तरीका है आप ऐसे फेमस और पॉपुलर ब्लॉग में सही तरीके से कमेंट करके बैकलिंक प्राप्त कर सकते है यह आज के समय भी बहुत अच्छे से काम करते है इसलिए आप कुछ अथॉरिटी ब्लॉग में कमेंट करके बैकलिंक ले सकते है 

Final Words on Backlink Kya Hai Hindi

दोस्तों आशा करता हु की आपको हमारे इस आर्टिकल Backlink क्या है और बैकलिंक कैसे बनाये आर्टिकल पसंद आया होगा और आप समझ गए होंगे आखिर आपके ब्लॉग के लिए बैकलिंक कितने जरुरी होते है और किस तरह से नए ब्लॉग के लिए बैकलिंक बनाने चाहिए ताकि आपको गूगल पेनल्टी का सामना नहीं करना पड़े 

इसलिए इन सभी बातो का ध्यान जरूर करे कोई भी बैकलिंक बनाने से पहले और सबसे पहले अथॉरिटी कंटेंट देने पर ध्यान दे फिर जाके बैकलिंक बनाने पर अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इस आर्टिकल को सोशल मीडिया वेबसाइट पर शेयर करे 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here